What Is Electric Charge: विद्युत आवेश किसे कहते है, SI मात्रक, सूत्र, मूल गुण, यहां जानें

5 Min Read
What Is Electric Charge

What Is Electric Charge: विधुत आवेश किसी भी पदार्थ का वह गुण जिसके कारण अगर उसे किसी विद्युतीय क्षेत्र में रखते है तो वह अपने ऊपर किसी भी प्रकार के बल ( जैसे – विद्युतीय , चुम्बकीय) का अनुभव करता है।

दूसरे शब्दों में कह सकते है कि किसी पदार्थ की वह विशेषता जिससे बह एक विद्युत बल प्रवाह कर सकती है या चुंबकीय बल प्रवाह कर सकती है।

• किसी भी प्रकार की पदार्थ हो उसमे आवेश उपस्थित रहते है ये आवेश इलेक्ट्रॉन प्रोटॉन हो सकते है ।

• इलेक्ट्रॉन पर नेजेंटिव आवेश होता है (e= -1.67×10¯¹⁹ C)

• प्रोटॉन पर पॉजिटिव आवेश होता है।  (P=1.67×10¹⁹ C)

आवेश का Formula और SI यूनिट

  • (q=ne )

आवेश कितने प्रकार का होता है?

आवेश दो प्रकार का होता है।

  1. पॉजिटिव आवेश
  2. नेगेटिव आवेश

1. पॉजिटिव आवेश

पदार्थ से इलेक्ट्रोन के बाहर निकलने की प्रक्रिया को पदार्थ का पॉजिटिव आवेश होने की प्रक्रिया कहलाती है

  • पदार्थ से जितने इलेक्ट्रॉन बाहर निकलेंगे बॉडी उतनी ही पॉजिटिव आवेशित होती जाएंगी।
  • पदार्थ में इलेक्ट्रोन की कमी होना पदार्थ का पॉजिटिव आवेशित होना है।
  • बॉडी के आवेश की स्थति में पदार्थ से इलेक्ट्रोन बाहर निकलते है।

2. नेगेटिव आवेश 

पदार्थ में इलेक्ट्रोन के प्रवेश होने करने की प्रक्रिया पदार्थ की नेगेटिव आवेशित होने की प्रक्रिया कहलाती है

  • पदार्थ में जितने ज्यादा इलेक्ट्रोन प्रवेश करेंगे उतनी ही बॉडी नेगेटिव आवेशित होंगी ।
  • बॉडी मै इलेक्ट्रोन की अधिकता होना 
  • पदार्थ के नेगेटिव आवेशित की स्थिति में इलेक्ट्रोन बॉडी के अंदर प्रवेश करते है।

आवेश का स्टोर

आवेश को ना तो उत्पन्न किया जा सकता है और ना ही नस्ट किया जा सकता है आवेश को एक पदार्थ से दूसरी पदार्थ में ट्रांसफर किया जा सकता है।

 आवेश की विद्युत क्षेत्र रेखाएं 

  • +q आवेश से विधुत क्षेत्र रेखाएं पदार्थ से बाहर निकलती है।
  • -q आवेश से इलेक्ट्रिक फील्ड लाइन्स पदार्थ में प्रवेश करती है।
  • विद्युत क्षेत्र रेखाएं  +q आवेश से निकल कर -q आवेश में प्रवेश करती है।
  • कभी भी कोई बल रेखाएं एक दूसरे को किसी भी बिंदु पर नहीं काटती क्योंकि यह हमेशा एक दूसरे के समांतर चलती है तथा किसी एक बिंदु पर दो क्षेत्रों का होना असम्भव है।

विद्युत आवेश के गुण

एक समान प्रकृति के आवेश ( जैसे – +q +q या-q -q ) एक दूसरे से दूर हटते है या एक दूसरे पर विपरीत बल लगाते है तथा असमान प्रकृति के आवेश ( जैसे- +q -q) एक दूसरे को आकर्षित करते है

स्थिर आवेश क्या है ?

वह आवेश जो गतिशील नहीं होते स्थिर आवेश कहलाते है यह आवेश किन्हीं पदार्थो के आपसी रगड़ से प्राप्त हो जाते है। जो अपने से हल्की अन्य वस्तुओ को अपनी तरफ आकर्षित करती है इन आवेशो को किसी भी कंडक्टर की जरुरत नहीं होती स्थिर आवेश आकाशीय बिजली भी होती है जहां काफी अधिक मात्रा में चार्ज उपस्थित रहता है यह चार्ज गतिशील नहीं होता सिर्फ ट्रांसफर होता है  

गतिशील आवेश क्या है?

वह आवेश जो गतिशील होते है गतिशील आवेश कहलाते है। यह आवेश किसी भी चालक में धारा का कारण बनते है इन अवेशो को बहने के लिए किसी बाहरी बल की जरूरत पड़ती है उस बल को इएमएफ कहते है।

सबसे पहले आवेश की किसने खोज की थी

आज से लगभग 600 वर्षो पहले यूनान के थेलीज अपने घर का कुछ काम कर रहे थे तभी उन्होंने पाया कि बस्तुओ को रगड़ने से उसमे किसी भी प्रकार का गुण आ जाता है। जो या तो यह एक दूसरे को अपने से दूर करती है या एक दूसरी हल्की वस्तु को आकर्षित कर रही है थैलीज ने यह प्रक्रिया कई बार दोहराई। इसलिए थेलिज को यह सब लगभग 600 वर्ष पहले से मालूम था कि पदार्थ में कुछ ना कुछ आवेश होता है 

विद्युत आवेश की इकाई क्या है ? 

विद्युत आवेश की इकाई कूलाम है।

विद्युत आवेश का एसआई मात्रक क्या है?

विद्युत आवेश का एसआई मात्रक कूलाम है।

विद्युत आवेश का संकेत क्या है?

विद्युत आवेश का संकेत चिन्ह q हैं।

Share This Article
Leave a comment