Parliament Attack: लोकसभा की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक, अंदर घुसे दो आदमी, जूते से निकालकर…

4 Min Read
Parliament Attack News

Parliament Attack: लोकसभा की सुरक्षा में आज बडी चूक देखने को मिली। जिसमे दो अनजान लोग संसद के अंदर घुस गए और जूते से पीले रंग की गैस स्प्रे करने लगे। आज देश में 2001 में हुए संसद हमले की बरसी मनाई जा रही थी इसी मौके पर करीब दोपहर दो बजे दो अनजान शख्स दर्शक दीर्घा से नीचे कूदकर नारे बाजी करने लगे। जारी कई वीडियो में आप देख सकते है कि लोग किस तरह कुर्सियों पर उछलते हुए स्पीकर की तरफ बड़ रहे थे। इस बीच संसद में बैठे सभी सांसद डरे दिखाई दे रहे थे। लेकिन कुछ ही समय में पास ले सभी सांसदों ने उन्हे दबोच लिया। सांसदों ने दोनों प्रदर्शन कारियो की खूब धुलाई की। उसके बाद सुरक्षा कर्मियों को सौप दिया। 

सांसद काफी डरे हुए थे

जैसे ही दर्शक दीर्घा से दो लोग कूदे तो सांसद काफी डर गए थे। सांसद मालूक नागर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि जिस समय अनजान शख्स अन्दर कूदा तो चारो तरफ डर का माहौल था सभी को लग रहा था यह मारने आया है। लेकिन उसे पकड़ते ही वह रोने लगा और चिल्लाने लगा की में सिर्फ प्रदर्शन करने आया था। 

संसद के बाहर भी थे कुछ लोग

संसद के अंदर दो लोग और सनाद्यके बाहर भी दो लोग थे जिन्होंने संसद के बाहर स्मोक बम उपयोग किया था। आपको बता दे अभी संसद में शीतकालीन सत्र चल रहा है। संसद की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े किए जा रहे हैं कि ऐसे लोग किस सांसद की सिफारिश से अंदर आ रहे है। देश की संसद में इस तरह के हंगामे से देश की छवि धूमिल हो रही है। अब सुरक्षा चूक को लेकर लोग सवाल पूछ रहे है। कि किस तरह से ऐसे लोग संसद के अन्दर प्रवेश कर सकते है। सुरक्षा एजेंजी पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है और जांच पड़ताल कर रही है। 

आज ही के दिन हुआ था पहले हुआ था Parliament Attack

साल 2001 के में आज के दिन ही Parliament Attack हुआ था। 13 दिसंबर 2001 को आतंकवादियों ने संसद भवन पर हमला किया था। इस घटना में भारत की तरफ से 9 जवान शहीद हुए थे। बही पांचों आतंकवादियों को मौके पर ही ढेर कर दिया गया था। आज के दिन पीएम मोदी और अन्य नेताओं ने शहीदों को श्रद्धांजलि दी है। इस मौके पर देश के पीएम मोदी जी शहीदों के परिवारजनों से भी मिले। हाल की राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने शहीदों के लिए कहा कि देश हमेशा उन बहादुर सुरक्षा कर्मियों का ऋणी रहेगा। जिन्होंने अपनी जान गवाकर देश की संप्रुभ्यता को बनाए रखा।

Share This Article
Leave a comment