Mobile Virtual RAM: क्या वर्चुअल रैम से मोबाइल सुपरफास्ट होता है, कंपनियां करती है गुमराह

4 Min Read
Mobile Virtual RAM

Mobile Virtual RAM: आजकल चाहे सस्ता मोबाइल फोन हो या मंहगा सभी में कंपनियां वर्चुअल रैम देने का वादा करती है। क्या इससे आपके फोन में कुछ फायदा होता है कि नही इस पोस्ट में हम जानेंगे की मोबाइल फोन में वर्चुअल रैम होने से क्या फोन सुपरफास्ट हो जाता है या कंपनिया आपको को गुमराह करती है।

पहले यह पीसी में दी जाती थी, लेकिन आजकल मोबाइल फोन में भी इसका चलन तेजी से चल रहा है। कंपनिया इसका उपयोग बड़ चढ़ कर रही है। क्योंकि जब आप फोन खरीदने जाते है तो दुकानदार फोन के फीचर में रैम जोड़ता हुआ बताता। जिस फोन की रैम और रोम अधिक होती है वह फोन मंहगा होता है।

वर्चुअल रैम से मोबाइल सुपरफास्ट होता है कितना सच कितना झूठ

आजकल कंपनिया अपने फोन में वर्चुअल रैम बड़ चढ़ कर प्रचार करती है। लेकिन आपको हैरानी होगी कि इससे आपके फोन पर बहुत अधिक असर नहीं होता। अगर आपको लगता है Virtual RAM से मोबाइल फोन सुपर फास्ट हो जाएगा तो यह आपका बहम है। सच यह है कि आपकी 6 जीबी की रैम के मुकाबले 6जीबी वर्चुअल रैम उतनी प्रभावित नहीं होती।

यह आपके बैकग्राउंड में चलने वाले ऐप्स में मदद जरूर करती है लेकिन फोन की स्पीड से समस्याओं में अधिक असर नहीं डालती। आपको यह भी जानना जरूरी हो गया होगा की आखिर वर्चुअल रैम क्या होती है जिसे कम्पनियां इतनी प्रमोट करती है।

वर्चुअल रैम क्या होती है

वर्चुअल रैम को रैम बूस्टिंग कहा जाता है। इसे रैमएक्सपांशन के नाम से भी जाना जाता है। इसका मुख्य उपयोग मल्टीटास्किंग उपयोग परफॉर्मेंस में सुधार करना है। हालांकि यह मोबाइल फोन में स्थिति स्टोरेज से बनाई जाती है। जिससे इसकी परफॉर्मेंस इतनी खास नही होती। यह ऐप लोडिंग में स्पीड अप जरूर करता है यह एक्सेसिव रिलोडिंग को कुछ हद तक कम कर देता है। इसका उपयोग पहले कंप्यूटर के लिए किया गया था। अब सभी मोबाइल कंपनिया रूट एक्सेस के साथ वर्चुअल रैम का उपयोग कर रही है।

वर्चुअल रैम के उपयोग

एंड्रॉयड फोन में वर्चुअल रैम कुछ हद तक वर्चुअल रैम उपयोगी साबित होती है। यह मौजूदा स्थाई रैम के लिए रीड एंड राइट में मदद करती है। लेकिन यह स्थाई रैम जितनी फास्ट नही होती जिससे उसकी सटीक परफॉर्मेंस में नहीं दे सकती। लेकिन कुछ हद तक परफॉर्मेंस में सुधार जरूर कर सकती है।

वर्चुअल रैम बैकग्राउंड में चलने वाले ऐप्स को खोलने में मदद करती है। आप कह सकते है कि इसका उपयोग स्वैप मेमारो रैम के रूप में उपयोग किया जा रहा है। यह आपके फोन में कुछ हद तक अधिक ऐप्स रखने में मदद जरूर करेंगी। लेकिन अगर आप गेमिंग करते है और चाहते है कि यह इसपर आपकी स्पीड और पिंग रेश्यो बड़ा दे तो ऐसा नही होगा। यह आपके गेमिंग परफॉर्मेंस पर कुछ अधिक असर नहीं डाल पायेंगा। हालंकि कुछ हद तक सुधार जरूर करेगा जो आपको महसूस नहीं होगी।

Share This Article
Leave a comment