Gemini: गूगल ने लॉन्च किया नया AI मॉडल Gemini टूल, इंसानी दिमाग को भी छोड़ा पीछे

3 Min Read
Gemini AI Tool

Gemini: गूगल ने हाल ही में अपना नया AI मॉडल टूल Gemini लॉन्च किया है। गूगल इसके माध्यम से चैट जीपीटी को सीधे टक्कर देने वाला है। बात करें gemini की तो यह काफी एडवांस है। यह मल्टीटास्किंग वर्क जैसे इमेज, विडियो, कोड, टेक्स्ट जैसे कामों को एक साथ करने में सक्षम होगा।

गूगल ने इससे पहले गूगल Bard लॉन्च किया था जो यूजर्स को बीच उम्मीद के मुताबिक पसंद नही आया। लेकिन Gemini की बात की जा रही है यह लोगो को जरूर प्रभावित करने वाला है। रिपोर्ट के अनुसार Gemini तीन तरह से जारी किया जायगा जो यूजर्स की जरुरत के हिसाब से अलग अलग होगा।

पहले भाग में अल्ट्रा, दूसरा प्रो और तीसरा नेनो नाम होंगे। बात करें इसे उपयोग की तो यह शुरुआत में अंग्रेजी में उपयोग किया जा सकता है जिसे 170 देशों में एक्सेस कर पाएंगे। हालांकि गूगल टेस्टिंग के बात इसे अन्य भाषाओं और देशों के लिए जारी कर देगा। 

Gemini Pro

गूगल Gemini Pro को Bard के साथ टेक्स्ट आधार के साथ उपयोग किया जा सकता है। Bard में Gemini Pro का उपयोग अभी सिर्फ अंग्रेजी में किया जा सकता है। बात करें इसके इस्तेमाल की तो यह भारत सहित 170 देशों में उपयोग के लिए शुरू किया जायेगा। 

Gemini Ultra

Gemini Ultra का उपयोग AI Chatbot के साथ किया जा सकता है। इसमें एडवांस मॉडल होंगे जिन्हें यूजर्स अपनी पहुंच तक कर सकते है। इसके इस्तेमाल को अगले साल की शुरआत से किया जा सकता हैं। 

क्या बोले सीईओ सुंदर पिचाई

गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा कि यह सबसे बड़ा इंजीनियरिंग और विज्ञान से जुडा प्रोडक्ट है। गूगल लगातार पिछले 8 वर्षो से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस AI पर काम कर रहा था जोकि Gemini के साथ आगे आया है। सीईओ के अनुसार Gemini को मोबाइल से लेकर हाई डिवाइसेज में उपयोग किया जा सकता है। 

इंसानों से भी तेज होगा नया Gemini AI

डेमिस हसविस जोकि गूगल डीपमिंड के सीईओ और को फाउंडर है उनके अनुसार जेमिनी ने कई अन्य भाषाओं में इंसानों को भी पीछे छोड़ दिया है। उन्होंने आगे कहा कि जेमिनी अल्ट्रा ने मासिव मल्टीटास्क लैंग्वेज अंडरस्टैंडिंग में 90 प्रतिशत स्कोर के साथ इंसानी एक्सपर्ट्स को पीछे छोड़ दिया है। मासिव मल्टीटास्क लैंग्वेज अंडरस्टैंडिंग में भौतिक, इतिहास, गणित, एथिक्स जेसे 57 विषयो का जोड़ है। जिसके माध्यम से दुनिया की समझ और समस्या सुधार क्षमता का आकलन किया जाता है।

Share This Article
Leave a comment